Friday, January 14, 2022

शोध, समीक्षा तथा आलोचना की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 6, अंक : 24 , त्रैमासिक : जनवरी-मार्च 2022 अंक

0 comments

मित्रों, संरक्षक एवं सलाहकार संपादक, सुधा ओम ढींगरा, प्रबंध संपादक नीरज गोस्वामी, संपादक पंकज सुबीर, कार्यकारी संपादक, शहरयार, सह संपादक शैलेन्द्र शरण, पारुल सिंह, आकाश माथुर के संपादन में शोध, समीक्षा तथा आलोचना की अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका शिवना साहित्यिकी का वर्ष : 6, अंक : 24 , त्रैमासिक : जनवरी-मार्च 2022 अंक अब उपलब्ध है। इस अंक में शामिल हैं- आवरण कविता / अनिल जनविजय, आवरण चित्र / इरफ़ान ख़ान, संपादकीय / शहरयार, व्यंग्य चित्र / काजल कुमार, अंतर्राष्ट्रीय कथा सम्मान / तेजेंद्र शर्मा, रणेंद्र, उमेश पंत, लक्ष्मी शर्मा, इरशाद ख़ान सिकंदर, मोतीलाल आलमचंद्र को सम्मान, संस्मरण आलेख- निदा फ़ाज़ली: ख़यालों की ऊँचाई का सौन्दर्य, विजय बहादुर सिंह, उपेक्षा, अपमान और बेक़द्री में अस्त सुर-गणपत गाथा, पंकज पराशर, पुस्तकालय से- इन दिनों जो पढ़ा गया, पुकारती हैं स्मृतियाँ / आनंद पचौरी, अन्दाज़-ए-बयाँ उर्फ़ रवि कथा / ममता कालिया, तिल भर जगह नहीं / चित्रा मुद्गल, कोई ख़ुशबू उदास करती है / नीलिमा शर्मा, सुधा ओम ढींगरा, पुस्तक समीक्षा- रज्जो मिस्त्री, डॉ. जसविन्दर कौर बिन्द्रा / प्रज्ञा, संकल्प सुख, डॉ. दीप्ति / डॉ. मधु संधू, वसंत का उजाड़, सूर्यकांत नागर / प्रकाश कांत, कुहासा छँट गया, डॉ. आशा सिंह सिकरवार / ममता त्यागी, मेरी चुनिंदा कहानियाँ, दीपक गिरकर / डॉ. अशोक गुजराती, समय का अकेला चेहरा, प्रदीप कुमार ठाकुर / नरेंद्र पुंडरीक, मन का हरसिंगार, गोविंद सेन / कुँअर उदयसिंह अनुज, पगडंडियों का रिश्ता, अश्विनीकुमार दुबे / विजय कुमार दुबे, एक बूँद बरसात, डॉ. सुशील कृष्ण गोरे / डॉ. रमाकांत शर्मा, घर वापसी, रमेश शर्मा / मनोज कुमार शिव, सिलवटें, नीरज नीर / अशोक प्रियदर्शी, खिड़कियों से झाँकती आँखें, अशोक प्रियदर्शी / सुधा ओम ढींगरा, गांधी दौलत देश की, ब्रजेश कानूनगो / ओम वर्मा, पाषाणपुष्प का किस्सा, डॉ. स्नेहलता पाठक / ब्रजेश कानूनगो, जड़ पकड़ते हुए, तरसेम गुजराल / राकेश प्रेम, आसमाँ और भी थे, शैलेन्द्र शरण / गजेन्द्र सिंह वर्धमान, जयप्रकाश चौकसे, पर्दे के सामने, ब्रजेश राजपूत / रितु पांडेय, हमेशा देर कर देता हूँ मैं, प्रज्ञा / पंकज सुबीर, हमेशा देर कर देता हूँ मैं, प्रमोद त्रिवेदी / पंकज सुबीर, टूटते रिश्ते-दरकते घर, दीपक गिरकर / तरुण पिथोड़े, अनसोशल नेटवर्क, ब्रजेश राजपूत / दिलीप मंडल, गीता यादव, हरदौल, अशआर अली / वंदना अवस्थी दुबे, सूरजमुखी सा खिलता है जो, तरसेम गुजराल / राकेश प्रेम, केंद्र में पुस्तक, उमेदा - एक योद्धा नर्तकी, गीताश्री, दीपक गिरकर / आकाश माथुर,  दृश्य से अदृश्य का सफ़र, प्रेम जनमेजय, तरसेम गुजराल, डॉ. सीमा शर्मा, दीपक गिरकर, परिचर्चा, सुधा ओम ढींगरा, कोई ख़ुशबू उदास करती है, डॉ.फतेह सिंह भाटी, अवधेश प्रीत / वंदना बाजपेयी, नीलिमा शर्मा, शोध आलेख, कुंवर नारायण का कथा-संसार, प्रो. प्रज्ञा, हिन्दी साहित्य, स्त्री और आत्मकथा, डॉ. सुनीता कुमारी, सुधा ओम ढींगरा की कहानियों में असामान्य मनोविज्ञान का चित्रण, रेनू यादव, डिज़ायनिंग सनी गोस्वामी, सुनील पेरवाल, शिवम गोस्वामी। आपकी प्रतिक्रियाओं का संपादक मंडल को इंतज़ार रहेगा। पत्रिका का प्रिंट संस्करण भी समय पर आपके हाथों में होगा।
ऑन लाइन पढ़ें-    
https://www.slideshare.net/shivnaprakashan/shivna-sahityiki-january-march-2022-250998946
https://issuu.com/home/published/shivna_sahityiki_january_march_2022
http://www.vibhom.com/shivna/jan_mar_2022.pdf
साफ़्ट कॉपी पीडीऍफ यहाँ से डाउनलोड करें
http://www.vibhom.com/shivnasahityiki.html
फेसबुक पर-
https://www.facebook.com/shivnasahityiki/
ब्लॉग-
http://shivnaprakashan.blogspot.com/